तुगलकाबाद गाँव एरिया में कल रात काफी भीषड़ आग लगने के कारण अपने घरों में सो रहे लोगो की नींद अचानक से मातम में बदल गयी , सिलेंडर फटने की आवाज सुनकर जागे तो उन्हें पता लगा कि घरों में आग लगी हुई है।

यह हादसा रात 12:46  पर हुआ । गहरी नींद ले रहे लोगो को पता भी नही था की उनके साथ क्या होने वाला है, लोगो को काफी जान माल ही हानि हुई।

 

मंदिर को नही हुआ कुछ भी 

इतनी भयानक आग के चलते मंदिर को कुछ नहीं हुआ यह देख लोग काफी अच्चम्भित हुए

आखिर आग लगी कैसे

रात में एक कबाड़ की दुकान की में रखी प्लास्टिक में आग लगी , आग इतनी बढ़ गई की झुग्गिओं में जा पहुँची वह पर एक घर में सिलेंडर फटने से आग काफी तेज़ी से फेली।

आग की चपेट में करीब 1200घर थे 

इतनी तेज़ी से बढ़ती आग को देखते हुए लोग और बच्चे अपने घरों को जलते हुए देख रोने चिल्लाने लगे

इस लॉक डाउन में लोगो की परेशानी और भी बढ़ गई है , घरों में आग लगने के कारण बहुत लोग अपने घरों से बेघर हो गये , खाने पीने के सभी चीजे जलकर राख हो गई , देखते ही देखते पूरा घर जल गया

फायर ब्रिग्रेड की गाडिया रात 1:46 पर पहुंची

कबाड़ में से प्लास्टिक पोलीथीन चुनने वाले गरीब लोगो की झोपड़ियां काले धुंए में तब्दील हो गई

घरों में लगातार सिलेंडर फट रहे थे । देर रात आग बुझाने की कोशिश करती रही फायर ब्रिगेड की गाड़िया सुबह तक मलबा के अलावा कुछ दिखायी नहीं दिया । घायलों को हॉस्पिटल में इलाज़ चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here